यह चीजे खाये और अपनी याददाश्त बढ़ाए

अच्छी खुराक हमारी मानसिक और शारीरिक शक्ति के लिए जरुरी है। हमारे दिमाग के लिए भी पोषण उतना ही जरुरी है जितना बाकी के शरीर के लिए। ऐसा माना जाता है की हमारी खुराक का सीधा असर दिमाग पर पड़ता है। कई सारी खुराक हमारी याददाश्त बढ़ा सकती है। उनमे से कुछ यहाँ पर दी गई है।

साबुत अनाज: हमारा दिमाग शक्ति पाने के लिए ग्लूकोज़ का इस्तेमाल करता है। इस लिये यह जरुरी है की उसे ग्लूकोज़ की आपूर्ति होती रहे। हालांकि ज्यादा चीनी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। इस लिए साबुत अनाज दिमाग को ग्लूकोज़ पहुंचाने का एक अच्छा तरीका है। साबुत अनाज रक्त में चीनी की मात्रा धीरे धीरे बढ़ाता है, जो हानिकारक नहीं है।

टमाटर: आपको यह जानकर हैरानी होगी के रोज़ाना खाए जाने वाले टमाटर भी हमारी याददाश्त बढ़ा सकतें है! इनमें एंटी ओक्सिडंट्स की मात्रा ज्यादा होती है। यह एंटी ओक्सिडंट् बुढापे की बजह से होने वाले नुकसान को कम कर सकतें है।

मछली: मछली के तेल में एसेन्शिअल फैटी असिड (essential fatty acids) भरपुर मात्रा में होते है। यह एसेन्शिअल फैटी असिड दिमाग, ह्रदय और जोड़ों के लिए बहुत अच्छे है। अगर आप शाकाहारी हैं, तो आप अलसी के बीज, सोयाबीन, कद्दू के बीज या अखरोट के तेल का भी इस्तेमाल कर सकतें है।

सेम और फलियाँ: यह सिर्फ प्रोटीन ही नहीं परन्तु कोम्प्लेक्स कार्बोहायड्रेट् का भी अच्छा स्त्रोत है। इनमें विटामिन बी और फोलिक एसिड की मात्रा भी अच्छी होती है जो हमारे शारीर में नए कोष बनने के लिए जरुरी है।

ब्रोकोली: यह हरी सब्जी, केल्शियम, विटामिन सी, बी, ए और के, रेशें और लोह्तत्व से भरपूर है। एक तरह से यह सम्पूर्ण आहार का एक अभिन्न हिस्सा है। यह पोषक तत्व हमारे दिमाग को होने वाले नुकसान को जल्दी ठीक करने में मदद करतें है।

अखरोट और बादाम: इन दोनों में ओमेगा 3 और ओमेगा 6 फैटी एसिड, विटामिन बी -6, और विटामिन ई बहुत सी मात्र में पाया जाता है। विटामिन ई हमारे दिमाग को फ्री रेडिकल के द्वारा होने वाले नुकसान से बचाता है। इससे बुढापे में याददाश्त चले जाने की संभावना कम हो जाती है। बादाम को पूरी रात भिगोकर खाने से और भी ज्यादा फायदा होता है।

हमारे दिमाग को स्वस्थ रखने का सही उपाय है संतुलित आहार लेना! प्रयत्न करें की आपके आहार में ऊपर बताई गई सभी चीजें नियमितता से शामिल हो।

Comments